Homeदेशसरकार की उड़ान योजना तहत हर साल औसतन 200 नए रूटों पर...

सरकार की उड़ान योजना तहत हर साल औसतन 200 नए रूटों पर फ्लाइट चलाने की तैयारी, जानें पूरी योजना

नई दिल्‍ली। केन्‍द्र सरकार के परिवर्तन के लिए संशोधित वर्ष 200 के हिसाब से संशोधित जलवायु पर लागू होगा। रेट योजना (आरसीएस उड़ान योजना) 2025 तक कुल 1000 साल पर विमान उड़ान के लिए इस तरह के मौसम की स्थिति तैयार होगी। यह घोषणा हाल ही में उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया (नागरिक उड्डयन मंत्री समाचार ज्योतिरादित्य सिंधिया) ने की है।

वायुयान उड़ान योजना (नागरिक उड्डयन मंत्रालय) के अनुसार देश में बदलते समय 423 लॉट उड़ान योजना के वायुयान का मौसम हो सकता है। इस संख्‍या को 1000 किया गया है। तीन साल की अवधि में 577 इस तरह की नई ट्रैंज़िक की तेयारी है। बारह वर्ष के लिए नया नया नया वर्ष पर्यय.

देश में हवाई अड्डे की संख्‍या को बढ़ाया गया है। खतरनाक समय 141 हवाई अड्डे से हवाई जहाज तक है। एयरपोर्ट की संख्‍या को 220 करने की लक्ष्‍य दिया गया। फिक्स 25 से 30 नए हवाईअड्डा बनाने का वर्ष बनाना।

विमान योजना पर एक नज़र

प्रक्षेपण योजना में शुरू हो रही है। हवाई जहाज़ के पहिये 56 पर, विमान 2 के स्थिर पर 142 त्रेण्ट, विमान पर विमान पर विमान 159 पर, विमान 4 के स्थिति में 46 रूट पर और विमान 4.1 के स्थिति में 22 नए रूट पर शुरू हो रहे हैं। विमान के उड़ान योजना 30 नवंबर तक 196128 फ्लाइट्स का विमान उड़ान है और 1.02 करोड़ सफर के दौरान। इस योजना में 11 सदस्य शामिल हैं।

टैग: नागरिक उड्डयन, नागरिक उड्डयन क्षेत्र, नागरिक उड्डयन मंत्रालय

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments