Homeलाइफ StyleSawan 2022: सावन के महीने में अपनाएं आयुर्वेद का 'डाइट प्लान', बीमारियों...

Sawan 2022: सावन के महीने में अपनाएं आयुर्वेद का ‘डाइट प्लान’, बीमारियों से रहेंगे कोसों दूर

हाइलाइट्स

सावन में बारिश की वजह से मौसम सुहावना हो जाता है. इस समय बीमारियों का अटैक भी बढ़ जाता है.
इस मौसम में सावधानियां बरतकर आप खुद को कई तरह की बीमारियों से बचा सकते हैं.

Ayurveda Diet Plan for Rainy Season: सावन का महीना शुरू हो चुका है और इस दौरान लोग बारिश का जमकर लुत्फ उठाते हैं. इस महीने में कई त्योहार होते हैं, जिन्हें लोग खुलकर सेलिब्रेट करते हैं. इस दौरान वे खान-पान को लेकर सावधानी नहीं बरतते और बीमारियों की चपेट में आ जाते हैं. सावन में में लोगों को पाचन से संबंधित बीमारियों का सामना करना पड़ता है. अगर खान-पान का ध्यान रखा जाए तो आप इस मौसम में खुद को स्वस्थ और तंदुरुस्त रख सकते हैं. क्या आप जानते हैं कि आयुर्वेद में हर मौसम के हिसाब से अलग खान-पान (Diet) का जिक्र किया गया है. इसमें बताया गया है कि लोगों को अलग-अलग मौसम के अनुसार कैसा भोजन करना चाहिए, ताकि बीमारियों से बचाया जा सके. आज इस बारे में आयुर्वेद के एक्सपर्ट से जान लेते हैं.

क्या कहते हैं एक्सपर्ट?

डॉ. अभिनव राज (MD, Ayurveda) का कहना है कि आयुर्वेद के प्रमुख ग्रंथों में शुमार ‘अष्टांग हृदय’ में डाइट प्लान को लेकर विस्तार से बताया गया है. बरसात के मौसम में लोगों का डाइजेशन सिस्टम स्लो हो जाता है और मेटाबॉलिज्म अच्छी तरह से काम नहीं करता. इसकी वजह से लोग बरसात के मौसम में बीमारियों की चपेट में आ जाते हैं. उनके मुताबिक अगर इस मौसम में आयुर्वेद के नियमों का पालन किया जाए और खान-पान को बेहतर रखा जाए, तो आप खुद को स्वस्थ रख सकते हैं.

यह भी पढ़ेंः क्या बारिश के मौसम में ज्यादा खतरनाक हो जाता है Covid-19 संक्रमण? 

बरसात में अपनाएं यह डाइट प्लान

डॉ. अभिनव राज के अनुसार लोगों को बारिश के मौसम में हल्का खाना खाना चाहिए और तरल पदार्थों का सेवन ज्यादा से ज्यादा करना चाहिए. ताजा फलों का जूस, शिकंजी, फालसे का शरबत और अन्य फलों व मौसमी सब्जियों का सेवन शरीर के लिए फायदेमंद होता है. हालांकि आयुर्वेद में खाने का समय निर्धारित किया गया है. इसके मुताबिक ब्रेकफास्ट में फल, सलाद और जूस का सेवन किया जा सकता है. इस दौरान दूध नहीं पीना चाहिए.

लंच की बात करें तो इस दौरान सत्तू का सेवन बहुत फायदेमंद बताया गया है. इसके अलावा मौसमी सब्जी और दाल का सेवन लंच में करना चाहिए. आप खीरा और ककड़ी का सलाद ले सकते हैं. इसके अलावा दूध दोपहर के वक्त पीया जा सकता है. आयुर्वेद के मुताबिक बारिश के मौसम में दही खाने से बचना चाहिए. अगर आप ज्यादा दही खाएंगे, तो आपका पाचन सिस्टम बिगड़ जाएगा. हालांकि छाछ सेहत के लिए फायदेमंद बताया गया है.

यह भी पढ़ेंः सॉइल पॉल्यूशन से बढ़ रहा हार्ट डिजीज का खतरा ! जानें चौंकाने वाली बातें

लोगों को डिनर के वक्त बेहद सावधानी बरतनी चाहिए. कोशिश करनी चाहिए कि डिनर सूर्यास्त से पहले कर लिया जाए. डिनर में काफी हल्का भोजन लेना चाहिए. किसी भी तरह की दाल, सलाद या फल शाम के वक्त नहीं खाने चाहिए. इस दौरान जूस पीया जा सकता है. खास बात यह है कि सोने से करीब एक-दो घंटे पहले दूध पीना सेहत के लिए फायदेमंद होता है.

जंक फूड से बनाएं दूरी

बारिश के मौसम में अगर आप फिट रहना चाहते हैं तो जंक फूड से दूरी बनानी होगी. इतना ही नहीं ज्यादा ऑयली और मसालेदार खाना भी इस सीजन में आपकी सेहत को बिगाड़ सकता है. एक्सपर्ट के मुताबिक वैसे तो जंक फूड हर सीजन में स्वास्थ्य के लिए नुकसानदायक होता है, लेकिन बरसात में यह स्वास्थ्य को सबसे ज्यादा प्रभावित करता है. जंक फूड के बजाय आप हेल्दी फूड खा सकते हैं. हर उम्र के लोगों को जंक फूड से बचना चाहिए.

Tags: Health, Lifestyle, Monsoon, Sawan, Sawan somvar

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments